रुड़की:दिनदहाड़े पिंकी की हत्या के विरोध के उत्तराखंड युवा संगठन ने निकाला कैंडल मार्च।

ब्यूरो रिपोर्ट
रुड़की/समाचार
काशीपुर में दिनदहाड़े मोबाईल शॉप पर चाकुओं से गोदकर हुई पिंकी की हत्या के खिलाफ आज उत्तराखण्ड युवा संगठन ने कैंडल मार्च निकालकर हत्यारों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की और मृतक पिंकी को भावभीनी श्रद्धांजलि दी।
ज्ञात रहे कि काशीपुर में एक मोबाईल शॉप पर अज्ञात युवकों ने पिंकी नामक एक युवती की दिनदहाड़े चाकूओं से गोदकर उसकी हत्या कर दी थी, लेकिन एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक हत्यारोपियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई। आज उत्तराखण्ड युवा संगठन के सैकड़ों पदाधिकारी देर शाम अशोक नगर स्थित बूचड़ी फाटक पर एकत्रित हुये और कैंडल मार्च निकालकर मृतक पिंकी को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उत्तराखण्ड युवा संगठन के पदाधिकारियों ने बताया कि यदि एक सप्ताह के अन्दर पुलिस द्वारा हत्यारोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता, तो सैकड़ों की संख्या में उत्तराखण्ड युवा संगठन के पदाधिकारी हल्द्वानी कूच करेंगे और वहां पुलिस प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि दिनदहाड़े एक युवती की चाकूओं से गोदकर हत्या कर दी जाती हैं और सरकार व पुलिस प्रशासन इस पर चुप्पी साधे हुये हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बेटियों पर अत्याचार बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। इसकी समस्त जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी। कैंडल मार्च निकालने वालों में राकेश सिंह चौहान, देव सिंह पटवाल, हेमंत बडथ्वाल, रमेश सिंह सैन, प्रीतम सिंह रावत, अशोक कुमार, शंकर सिंह, रवि उपाध्याय, सुदर्शन डबरियाल, पल्लवी कुकरैती, मंजू नेगी, चंपा पटवाल, कमला, ललिता, जगदीश सिंह, आनंद सिंह रावत, राजेन्द्र प्रसाद, मदन सिंह, रणजीत सिंह, मालती नेगी, गीता देवी आदि शामिल रहे।

Admin

Read Previous

रुड़की:मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने नगर के विकास के लिए करोड़ों के विकास कार्यो का शिलान्यास किया।

Read Next

रुड़की:NHAI की सुस्ती बन रही हादसों की वजह शासन-प्रशासन बना मूकदर्शक,हाइवे क्रॉसिंग की मांग को लेकर 15 दिनों से धरनारत सालियर के ग्रामीण।